दिल्ली में खुशनुमा होगा मौसम कल से लगातार तीन दिन तक होगी बारिश

राष्ट्रीय राजधानी में मंगलवार को आंशिक बदली छाई रही। यहां का न्यूनतम तापमान सामान्य से दो डिग्री अधिक 29.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। सुबह 8.3० बजे आर्द्रता का स्तर 78 प्रतिशत दर्ज किया गया। भारतीय मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा, ‘आसमान में बदली छाई रहने के साथ दोपहर या शाम तक हल्की बारिश या बौछार पड़ने की संभावना है।’ मौसम विभाग ने 11 जुलाई से तीन दिनों तक अच्छी बारिश का अनुमान जताया है।

यहां सोमवार को अधिकतम तापमान सामान्य से चार डिग्री अधिक 4०.1 डिग्री और न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री अधिक 3०.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग के अधिकारी ने कहा, ‘सफदरजंग वेधशाला में बीते 24 घंटों में बारिश नहीं हुई, जबकि रिज क्षेत्र में 4 मिलीमीटर और नरेला में 1० मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई।’

 

मुंबई में चौथे दिन भी बारिश
मुंबई, इसके आसपास के क्षेत्रों और महाराष्ट्र के बड़े भाग में मंगलवार को लगातार चौथे दिन भी भारी बारिश से सड़क एवं रेल यातायात सेवा प्रभावित हुईं। मुंबई की जीवनरेखा कही जाने वाली पश्चिमी रेलवे (डब्ल्यूआर) और मध्य रेलवे (सीआर) की उपनगरीय ट्रेन, ट्रैक पर जलभराव की वजह से 15-2० मिनट की देरी से चल रही हैं, जिसकी वजह से सुबह अपने गंतव्य जाने वाले यात्रियों को देरी का सामना करना पड़ा। वसाई-विरार सेक्टर में पश्चिमी रेलवे की सेवाएं रद्द कर दी गईं। सेवा केवल चर्चगेट और वसाई के बीच ही संचालित हो रही है।

लंबी दूरी की मुंबई आने वाली या जाने वाली कई ट्रेनों को या तो रद्द कर दिया गया है या मुंबई-गुजरात और मुंबई-नई दिल्ली मार्ग की ओर स्थानांतरित कर दिया गया है। मौसम विभाग के अनुसार, मुंबई में सुबह तक 165.8 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई जबकि उपनगरीय क्षेत्र में 184.3 मिलीमीटर की बारिश हुई। आने वाले कुछ दिनों में और ज्यादा बारिश की संभावना है। बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने बताया कि पिछले 21 दिनों में शहर में औसत मौसमी कुल बारिश की 6० प्रतिशत बारिश हो चुकी है।

यूपी को करना होगा और इंतजार
मुंबई में मूसलधार बारिश ने जहां मायानगरी की रफ्तार थाम दी है, वहीं उत्तर प्रदेश में मानसून की बेरुखी जारी है और बारिश के लिए लोगों का इंतजार बढ़ता ही जा रहा है। आंचलिक मौसम केन्द्र की रिपोर्ट के मुताबिक प्रदेश में मानसून फिलहाल लगभग शांत है। यही वजह है कि राज्य के ज्यादातर मण्डलों में मौसम का पारा चढ़ता जा रहा है। हालांकि, मानसून के जल्द ही फिर सक्रिय होने का अनुमान है। पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में एक-दो स्थानों पर मामूली बूंदाबांदी हुई।

हिमाचल में भारी बारिश के आसार
हिमाचल प्रदेश में अगले तीन से चार दिनों में भारी बारिश हो सकती है इसलिए प्रशासन ने मंगलवार को स्थानीय लोगों व पर्यटकों से ऊंचाई वाले इलाकों से दूरी बनाने की सलाह दी। एक सरकारी अधिकारी ने बताया कि कुल्लू, शिमला, सिरमौर, चंबा, लाहौल व स्पीति और किन्नौर जिलों के ऊंचाई वाले क्षेत्रों से दूर रहने की सलाह दी है क्योंकि अगले 24 घंटों में इन क्षेत्रों में बारिश की संभावना अधिक है। उन्होंने कहा कि मनाली से 52 किमी दूर रोहतांग पास जाने वाले पर्यटकों और स्थानीय लोगों को भी मौसम की स्थिति पर निगाह बनाए रखने की सलाह दी गई है जहां बर्फबारी के साथ बारिश की संभावना है।

मध्य प्रदेश के 7 जिलों में औसत से ज्यादा बारिश
मध्य प्रदेश में मानसून की शुरुआत अच्छी हुई है। राज्य के 51 जिलों में से सात में औसत से अधिक बारिश दर्ज की गई। राज्य के 22 जिलों में सामान्य बारिश हुई। इस तरह लगभग आधे राज्य को मानसूनी बारिश ने राहत दी। आधिकारिक तौर पर दी गई जानकारी के अनुसार, मध्य प्रदेश में इस वर्ष एक जून से नौ जुलाई तक सात जिलों में सामान्य से 20 प्रतिशत अधिक बारिश दर्ज की गई। प्रदेश के 22 जिलों में सामान्य बारिश दर्ज हुई।

Facebook Comments