Gadget : Whatsapp ने फर्जी खबर का सोर्स बताने से किया इंकार

फर्जी खबरों को लेकर आलोचना का सामना कर रहे Whatsapp ने इससे निपटने के लिए एक स्थानीय टीम बना रहा है। लेकिन निजी स्वरूप का हवाला देते हुए उसने सरकार को फर्जी खबरों का सोर्स बताने से इनकार कर दिया है।

सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के एक अधिकारी ने सोमवार को बताया कि व्हॉट्सएप ने सरकार के पिछले नोटिस का जवाब भेजा है। उसमें कंपनी ने अपने नेटवर्क पर फर्जी खबरों के प्रसार पर अंकुश लगाने के उपायों की जानकारी देने के साथ-साथ लोगों को शिक्षित करने और जागरूक करने के लिए किए अपने प्रयासों का उल्लेख किया है।

उन्होंने कहा, व्हॉट्सएप भारत में ही अपनी एक टीम खड़ी करने में लगी है। हालांकि, सरकार चाहती थी कि ऐसे संदेशों के मूल स्रोतों का पता लगाने के साथ-साथ उसकी पहचान बताई जाए। लेकिन व्हाट्सएप ने इससे इनकार कर दिया है।

कंपनी के एक अधिकारी ने कहा कि संदेश के स्त्रोत को बताने से इस प्लेटफॉर्म का निजी स्वरूप प्रभावित होगा। साथ ही पहचान संबंधी सूचना का गंभीर दुरुपयोग हो सकता है। कंपनी ने कहा, व्हॉट्सएप का इस्तेमाल लोग सभी प्रकार के संवेदनशील वार्तालाप के लिए करते हैं, इनमें चिकित्सक, बैंक और परिवार के साथ बातचीत भी शामिल होती है।

Facebook Comments