प्रेमी जोड़े की शादी महिला आयोग कराएगा …..

खबर का शीर्षक पढ़कर न चौंके . यह बिलकुल हकीकत है कि .राज्य महिला आयोग ने स्वयं संज्ञान लेकर एक पीड़ित युवती का उसके प्रेमी से दोनों पक्षों की सहमति से बिना दहेज़ के शादी होगी . महिला आयोग में हिंदू रीति रिवाज के साथ हुआ यह विवाह लोगों की चर्चा का विषय बन गया.

दरअसल हुआ यूँ कि 19 वर्षीय ज्योति को एक लड़के मनीष से प्यार करना घरवालों को इतना नागवार गुजरा कि पिता और भाई ने न केवल उसे करंट के झटके दिए , बल्कि भाई ने उसके बाल भी काट दिए. इसके बाद परिजनों ने उसे कमरे में बंद कर दिया .आयोग को जब इस मामले की जानकारी मिली तो उसने स्वयं संज्ञान लिया और और उसे मुक्त कराया.ज्योति की आपबीती सुनने के बाद आयोग ने उसके परिजनों को बुलाया. आयोग की समझाईश पर आखिर परिजनों ने अपनी गलती मानी और उन्होंने ज्योति की शादी की मंजूरी दे दी. इसके बाद आयोग ने लड़के मनीष और उसके परिजनों से बात की तो उन्होंने भी ज्योति को अपनाने की सहमति दे दी .

बता दें कि इसके बाद यह तय हुआ कि ज्योति और मनीष की शादी हिंदू रीति-रिवाज से होगी और महिला आयोग इस शादी को नगर निगम और कोर्ट में रजिस्टर्ड कराएगा. आखिर वह घड़ी आ ही गई जब महिला आयोग कार्यालय में गुरुवार को दोपहर में यह शादी बिना दहेज के संपन्न होगी. दूल्हे के पिता जो शादी का जोड़ा लेकर आएंगे, उसी जोड़े में दुल्हन की विदाई होगी. महिला आयोग के निर्देशन में सादगी से हो रही इस शादी की सब तरफ चर्चा हो रही है.

Facebook Comments