रोजाना तकिया लगाकर सोने से हो जाती है ये बड़ी बीमारी….

इसके अलावा रात को सोते समय बालों को बांधकर ही सोएं। हालांकि बहुत टाइट चोटी न बनाएं। इसके अलावा तकिए को नियमित रूप से साफ करते रहें।

हमारी त्वचा और बालों के लिए केमिकल्स के अलावा सूरज की रोशनी, धूल, प्रदूषण और गंदगी भी नुक्सानदायक होती हैं, लेकिन आपको बता दें कि आपका तकिया भी आपकी खूबसूरती में दाग लगाने का काम करता है।

जानिए कैसे छीनता है तकिया आपकी खूबसूरती –

शायद आप यकीन नहीं कर पाएं लेकिन जिस तकिए पर आप सिर रखकर सोते हैं वो कई गुना गंदा होता है। तकिए में हमारे सिर में लगा तेल, धूल, बाल चिपके होते हैं। ऐसे में जब हमारी स्क‍िन तकिए के संपर्क में आती है तो ये कण हमारे पोर्स में चले जाते हैं, जिससे वो बंद हो जाते हैं। सुबह हम देखते हैं कि चेहरे पर दाने निकल आए हैं।

जब हम रात को सोते हैं तो हमारी त्वचा और तकिए के बीच रगड़ होती है। जिससे झुर्रियां जल्दी पड़ जाती हैं। कई बार ऐसा भी होता है कि पिलो-कवर में डिटर्जेंट के कण रह जाते हैं जो त्वचा के संपर्क में आकर इसे नुकसान पहुंचा सकते हैं। इससे स्किन से जुड़ी कई तरह की समस्याएं हो सकती हैं।

सोने के दौरान हमारे बालों और तकिए के बीच रगड़ होती है। इससे बाल रूखे हो जाते हैं और उनका मॉइश्चर उड़ जाता है। कई बार बालों और तकिए की रगड़ के चलते बाल टूट जाते हैं। ऐसे में अगर आप अपने झड़ते बालों से परेशान हैं तो हो सकता है कि आपका तकिया इसके लिए जिम्मेदार हो।

कई बार ऐसा होता है कि हम सालों-साल एक ही तकिया इस्तेमाल करते रह जाते हैं और उसे बदलते नहीं है, ये गलत है। तकिए को हर छह महीने में बदलते रहें। तकिया जितना मुलायम होगा उतना ही बेहतर भी होता है। इसके अलावा रात को सोते समय बालों को बांधकर ही सोएं। हालांकि बहुत टाइट चोटी न बनाएं। इसके अलावा तकिए को नियमित रूप से साफ करते रहें।

Facebook Comments